नवाज का क्लिंटन पर सनसनीखेज आरोप, कहा- न्यूक्लियर टेस्ट रोकने के लिए दिया था ये ऑफर

इस्लामाबाद (20 जुलाई): चारों तरफ से मुसिबत में घिरे नवाज शरीफ को कुर्सी जाने का डर सता रहा है। लिहाजा वो खुद को सबसे बड़ा देशभक्त बताने में जुटा है। पनामा गेट समेत कई आरोपों में घिरे नवाज शरीफ ने अमेरिका पर बड़ा आरोप लगाया है। नवाज शरीफ ने कहा है कि 1998 में पाक की ओर किए गए न्यूक्लिर टेस्ट को न किए जाने के लिए उन्हें अमेरिका की ओर से मोटी रकम ऑफर की गई। उन्हेंने कहा कि अमेरिका के तत्काली राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने  उन्हें 5 बिलियन डॉलर का ऑफर किया था।


पंजाब के सिलिकोट में राजनीतिक मीटिंग में पहुंचे नवाज ने कहा कि अगर वो देश के प्रति वफादार नहीं होते तो वो मोटी रकम उनकी जेब में होती। दरअसल, पनामा गेट में हुए खुलासों में ये भी सामने आया है कि शरीफ ने 5 बिलियन डॉलर का ऑफर इसलिए ठुकरा दिया, क्योंकि शायद ये टेस्ट करने के लिए उन्हें चीन से 50 बिलियन डॉलर मिल सकते थे।

आपोक बता दें कि वे और उनका परिवार भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरा हुआ है और विपक्ष उनके इस्तीफे पर लगातार नजर बिठाए हुए हैं। नवाज के खिलाफ विरोध बढ़ने की वजह से सुप्रीम कोर्ट में इसकी सुनवाई हो रही है और संयुक्त जांच समिति पूरे मामले की जांच कर रही है।