सुप्रीम कोर्ट के आदेश को बदलकर नवाज शरीफ बने पार्टी प्रमुख

इस्लामाबाद (3 अक्टूबर): भ्रष्टाचार के आरोपों में पीएम की कुर्सी गवांने के बाद नवाज शरीफ एकबार फिर पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग-नवाज के प्रमुख चुन लिए गए हैं। आपको बता दें कि पनामा पेपर लीक मामले में 28 जुलाई को संसद की सदस्यता के अयोग्य घोषित ठहराए जाने के बाद शरीफ को प्रधानमंत्री पद छोड़ना पड़ा था।

नवाज शरीफ का फिर से पार्टी का अध्‍यक्ष बनना संसद में कानून में संशोधन के लिए रखे गए एक प्रस्ताव के पारित होने पर संभव हो पाया है। इस प्रस्ताव के मुताबिक, संसद की सदस्यता के अयोग्य घोषित हो चुका व्यक्ति भी किसी राजनीतिक दल का प्रमुख बन सकता है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के चलते उन्हें अपनी पार्टी का अध्यक्ष पद भी गंवाना पड़ा था।

लेकिन 22 सितंबर को उनकी पार्टी की ओर से रखे गए चुनाव प्रक्रिया सुधार विधेयक 2017 को संसद के उच्च सदन सीनेट ने पारित कर दिया। इसके अनुसार सरकारी कर्मचारी के अतिरिक्त कोई भी व्यक्ति किसी भी पार्टी में पद ग्रहण कर सकता है। उस पर किसी तरह की अन्य बाध्यता नहीं होगी। नया नियम उस कानून का स्थान लेगा जिसके अनुसार किसी पार्टी का मुखिया बनने के लिए व्यक्ति को संसद का चुना हुआ सदस्य होना अनिवार्य था।