फंसे नवाज तो पूछा- क्या पाकिस्तान में सभी लोग ईमानदार


नई दिल्ली (30 जुलाई): पनामा मामले में कुर्सी गंवाने के बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) की पार्लियामेंट्री बोर्ड की मीटिंग में एक अजीब सवाल उठाया। शरीफ ने यहां पर पूछा है कि क्या पाकिस्तान में सभी सादिक (ईमानदार) और अमीन (सच्चे) हैं।

शरीफ ने पार्टी मेंबर्स से कहा कि मुझे इस बात का फख्र है कि मुझे करप्शन के चार्जेस पर डिस्क्वालिफाई नहीं किया गया है। मैंने कभी रिश्वत या कमीशन नहीं लिया और मैंने अपने उसूलों से कभी समझौता नहीं किया। जब मैंने कभी सैलरी ही नहीं ली तो मैं डिक्लेयर क्या करूं? जब आप कुछ लेते हो तो मुश्किल होती है और जब आप कुछ नहीं लेते हो तो भी मुश्किल है।

शरीफ यही नहीं रूके और उन्होंने कहा कि केवल मेरी फैमली को ही जिम्मेदार क्यों ठहराया गया है। क्या पाकिस्तान में सब अमीन और सादिक हैं? मेरा मन साफ है। जब मैंने कुछ गलत नहीं किया या फिर इस मुल्क से ऐसा कुछ नहीं लिया जो मेरा ना हो, तब मैं गुनहगार क्यों महसूस करूं?