2 अक्टूबर को होगा नवाज शरीफ के किस्मत का फैसला

इस्लामाबाद (26 सितंबर): भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के किस्मत का फैसला 2 अक्टूबर को होगा। इससे पहले आज नवाज शरीफ पनामा पेपर घोटाला मामले में राष्ट्रीय जवाबदेही अदालत के सामने पेश हुए। इस मामले में अदालत ने 2 अक्टूबर को शरीफ पर अभियोग लगाने का फैसला किया है। साथ ही अदालत ने उनके बच्चों और दामाद के खिलाफ भी नया गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। संक्षिप्त सुनवाई के दौरान 67 वर्षीय शरीफ ने न्यायाधीश मुहम्मद बशीर को सूचित किया कि उनकी पत्नी की तबियत ठीक नहीं थी और उन्हें उनकी देखभाल करने की जरूरत है। इसके बाद उन्हें अदालत से जाने की इजाजत दे दी गयी।

इसके बाद अदालत को 10 मिनट के लिये स्थगित किया गया। बाद में सामान्य कार्यवाही फिर शुरू की गयी। यह पेशी महज एक औपचारिकता थी, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आरोपी मुकदमे का सामना करने के लिये तैयार है। शरीफ करीब 10 मिनट तक अदालत में रहे। शरीफ के कानूनी सहायक बैरिस्टर जफरुल्लाह खान ने मीडिया को बताया कि अदालत को अभियोग लगाने के लिये और वक्त देना चाहिये था। उन्होंने कहा, जब तक सभी आरोपी अदालत में पेश नहीं हो जाते तब तक अदालत अभियोग नहीं लगा सकती। हमें मामले को तैयार करने के लिये और वक्त दिया जाना चाहिये था।