लादेन पर किताब लिख बुरा फंसा नेवी सील, अमेरिका को देगा 70 लाख डॉलर

वॉशिंगटन (20 अगस्त) :  अल क़ायदा के मारे गए सरगना ओसामा बिन लादेन पर बिना अनुमति लिए किताब लिखना अमेरिकी नौसेना के पूर्व सील मैथ्यू बिस्सोनेट को बहुत भारी पड़ा है। मैथ्यू ने किताब में लादेन के मारे जाने की पूरी कार्रवाई का ब्योरा दिया था। मैथ्यू को अब अभियोजन से बचने के लिए 70 लाख डॉलर का नुकसान सहना पड़ेगा। मैथ्यू ने इस रकम से वंचित होने पर रज़ामंदी जताई है, इसमें किताब की बिक्री से मिलने वाली सारी रकम शामिल है। मैथ्यू ने मार्क ओवेन के छद्म नाम से लादेन पर 'नो इज़ी डे' नाम से किताब लिखी थी। 

अमेरिकी नौसेना के पूर्व सील मैथ्यू बिस्सोनेट ने न्याय विभाग के साथ करार के एक हिस्से के तौर पर अपनी ‘बेस्टसेलर’ किताब से मिलने वाली तमाम पिछली और अगली आय अमेरिका सरकार को सौंपने पर सहमति जताई है। अमेरिकी न्याय विभाग का आरोप है कि बिस्सोनेट ने अनिवार्य रूप से अपनी किताब का मसौदा जमा नहीं किया था।

एबीसी न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि करार के मुताबिक बिस्सोनेट ने अब तक की अपनी किताब से होने वाली आय अमेरिका को अदा करने पर सहमति जताई है। अब तक उसे इससे तकरीबन 67 लाख डॉलर की आय हुई है। उसे सरकार की कानूनी फीस के तौर पर 13 लाख डॉलर की अतिरिक्त रकम देनी होगी।