नेवी ने ओवर वेट 'तेजस' को किया रिजेक्ट

नई दिल्ली (3 दिसंबर): भारतीय नौसेना ने स्वदेशी युद्धक विमान तेजस के नेवी वर्जन को रिजेक्ट कर दिया है। नौसेना का कहना है कि 'ओवरवेट' होने के चलते इस फाइटर एयरक्राफ्ट को एयरक्राफ्ट कैरियर्स से ऑपरेट करने में कठिनाई हो रही है। नौसेना ने अगले 5-6 सालों में इसका विकल्प तलाश लेने की कवायद भी शुरू कर दी है। हालांकि नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने कहा कि डीआरडीओ, हिंदुस्तान ऐरोनॉटिक्स (एचएएल) और ऐरोनॉटिकल डिवेलपमेंट एजेंसी को सपॉर्ट करते रहेंगे। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि तेजस नेवी की जरूरतों को पूरा नहीं कर पा रहा है।

नौसेना प्रमुख ने स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस को अपने विमानवाहक पोतों पर तैनात करने की संभावना को खारिज कर दिया है। नौसेना के मुताबिक सिंगल इंजन वाला तेजस काफी भारी है। ऐसे में यह एयरक्राफ्ट करियर डेक से फुल टैंक ईंधन और आयुधों के साथ उड़ान भरने की जरूरतों को पूरा नहीं कर पाएगा।