इस मुस्लिम देश में हमेशा जलती रहती है मां दुर्गा की अखंड ज्योति...

नई दिल्ली (20 सितंबर): भले ही पाकिस्तान में हिंदुओं और मंदिरों पर अत्याचार हो रहे हैं, लेकिन अजरबैजान में 95 प्रतिशत आबादी सिर्फ मुसलमानों की है। आपको जानकर हैरत होगी कि यहां सुराखानी में मां दुर्गा का एक ऐसा मंदिर है, जिसमें पिछले कई सालों से पवित्र अग्नि लगातार जल रही है। हालांकि, अब यहां न तो श्रद्धालुओं की भीड़ दिखाई देती है और न ही फिजाओं में जयकारे गूंजते हैं।

कहा जाता है टेंपल ऑफ फायर... इस मंदिर को टेंपल ऑफ फायर के नाम से जाना जाता है। इसकी वजह यहां कई वर्षों से आग का निरंतर जलना है। बता दें कि हिंदू धर्म में अग्नि को बहुत पवित्र माना जाता है। इसलिए यहां जल रही ज्योति को साक्षात भगवती का रूप माना गया है। यहां एक प्राचीन त्रिशूल भी स्थापित है। मंदिर की दीवारों पर गुरुमुखी में लेख अंकित हैं। वहीं, मंदिर में प्राचीन वास्तुकला का उपयोग किया गया है।

किसने बनवाया था ये मंदिर... ऐसा कहा जाता है कि कई सालों पहले भारतीय कारोबारी इस रास्ते से होकर जाते थे। ऐसे में इन लोगों ने इस मंदिर को बनवाया था। इतिहासकारों के मुताबिक, इसे बुद्धदेव नाम के किसी शख्स ने बनाया था, जो हरियाणा के मादजा गांव के रहने वाले थे। वहां मौजूद एक अन्य शिलालेख के मुताबिक उत्तमचंद व शोभराज ने भी मंदिर निर्माण में अहम भूमिका निभाई थी।