'मानवाधिकार की आड़ में आतंक को बढ़ावा देने वाले देश सबसे बड़े पाखंडी'

नई दिल्ली (17 अगस्त): विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर ने पाकिस्तान की ओर इशारा करते हुए तीखा हमला बोला है। अकबर ने कहा कि ऐसे देश जो आतंक को बढ़ावा देने के लिए मानवाधिकार के मुखौटे का इस्तेमाल करते हैं, सबसे बड़े ढ़ोंगी होते हैं। 

रिपोर्ट के मुताबिक, अकबर ने कहा कि भारत समानता में विश्वास करने वाला देश है न कि दादागीरी में। उन्होंने आतंकवाद को मानवाधिकार के लिए दुनिया का सबसे बड़ा खतरा भी बताया।

अकबर 70वें स्वतंत्रता दिवस पर भारतीय वाणिज्य दूतावास में तिरंगा फहराने के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि आतंकवाद दुनिया का सबसे बड़ा दुश्मन है। उन्होंने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि दादागीरी के कारण ही 1971 में बांग्लादेश अलग हुआ और अब ब्लूचिस्तान का मामला भी सामने आ रहा है।