दिल्ली में वॉलीबॉल के नेशनल प्लेयर की हत्या, 30 घंटे तक खाली हाथ पुलिस

नई दिल्ली (14 जनवरी): दिल्ली के रोहिणी में वॉलीबॉल के नेशनल प्लेयर की चाकुओं से गोद कर हत्या कर दी गई। हत्या के 30 घंटे से ज़्यादा हो गए हैं, लेकिन अभी तक हत्यारों का पता नहीं चला। ये नेशनल प्लेयर मकर संक्रांति के पर्व पर अपने बुआ के घर उपहार देने आया था। पुलिस घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही है।


पुलिस के मुताबिक, वॉलीबॉल प्लेयर रोहित सोनीपत से मकर संक्रांति के त्योहार पर अपनी बुआ के घर गिफ्ट देने आया था। बुआ के घर से निकलने के बाद रोहित ने अपने साथी विवेक के साथ शराब पी। इसके बाद नशे की हालत में दोनों रोहिणी में देर रात तक घूमते रहे। उस वक्त रात के ग्यारह बज रहे थे। तभी डीडीए मार्केट में किसी बात को लेकर रोहित और मुकेश लहरी नाम के शख्स से कहासुनी हो गई। मामला इतना बढ़ गया कि आरोपी मुकेश और उसके साथियों ने रोहित को चाकुओं से गोदकर मार डाला।


रोहित रोहिणी में प्रॉपर्टी का कारोबार करता था। पिता का आरोप है कि रोहित को कुछ दिनों से जान से मारने की धमकी मिल रही थी। बदमाश उसे इलाका छोड़ने के लिए कह रहे थे, लेकिन जब उसने ऐसा नहीं किया तो उसका कत्ल कर दिया गया। रोहित अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। रोहित का परिवार गहरे सदमे में हैं। रोहित के पिता एयरफोर्स से रिटायर होने के बाद वॉलीबॉल की कोचिंग देते हैं और वो नेशनल लेवल के वॉलीबॉल कोच भी हैं।