भड़काऊ भाषण देने पर उलमा कौंसिल के अध्यक्ष के खिलाफ FIR

कानपुर (10 मार्च): ISIS के संदिग्ध आतंकियों के परिजन से मुलाकात के बाद राष्ट्रीय उलमा कौंसिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने पर FIR दर्ज की गई है। मौलाना आमिर रशादी ने एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए पूरे पुलिस महकमे पर सवालिया निशान लगा दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि सैफुल्लाह के एनकाउंटर में डीजीपी का कोई बयान नहीं दिया।

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर और मुख्यमंत्री ने मिलकर ये फर्जी एनकाउंटर कराया है। इसके पीछे उन्होंने एडीजी लॉ एंड ऑर्डर का बार-बार बयान बदलना और सैफुल्लाह के घर के अंदर बंद होने के बाद उसके घर वालों का नंबर पुलिस को कैसे मिला जैसे कई सवाल उठाए।

साथ ही उन्होंने गृहमंत्री तक को आतंकियों का गृहमंत्री बताकर पूरी कार्रवाई को वोट की राजनीति करार दिया। साथ ही सभी से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि हम उन लड़कों के लिए सुप्रीमकोर्ट तक लड़ेंगे। मृतक के घर जाकर पैसे देंगे। साथ ही फर्जी एनकाउंटर करने वालों पुलिस कर्मियों के नार्को टेस्ट की मांग करेंगे।