यहां ATM से मिलता है ‘मां का दूध’

पुडुचेरी (19 जुलाई): समय से पहले जन्म लेने वाले बच्चों के लिए जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (जिपमेर) ने ‘ह्यूमन मिल्क बैंक’ की स्थापना की है। यह बैंक नवजातों के मांओं को ब्रेस्ट फीडिंग के लिए काउंसलिंग भी करेगा। पुडुचेरी में बुधवार को इस बैंक का उद्घाटन हुआ।

अंग्रेजी अखबार में छपी रिपोर्ट के अनुसार, जिपमेर में हर माह 1500 बच्चों में से 30 फीसद बच्चे जन्म के समय काफी कम वजन के होते हैं। जिपमेर के डायरेक्टर एस सी पारिजा ने कहा, ‘इनमें से अधिकांश समय से पहले पैदा होने के कारण कमजोर होते हैं, इसलिए एनआइसीयू (नियोनैटल इंटेंसिव केयर यूनिट) में ह्यूमन ब्रेस्ट मिल्क बैंक की स्थापना काफी जरूरी है।