टीन शेड में रहता है ये क्रिकेटर, रातोंरात बना था 'करोड़पति'

नई दिल्ली(21 अप्रैल): रणजी ट्रॉफी में करियर के पहले ही मैच में दिल्ली के 7 बल्लेबाजों को आउट कर सुर्खियों में आने वाले तेज गेंदबाज नाथू सिंह आईपीएल-9 में मुंबई इंडियंस के लिए खेल रहे हैं। नाथू को मुंबई इंडियंस ने 3.2 करोड़ खरीदा है।

 एक समय हर महीने 7 हजार रुपए के लिए पिता का फैक्ट्री में पसीना बहाने वाले नाथू आईपीएल में बल्लेबाजों को धूल चटाने के लिए बेकरार हैं। आईपीएल-9 में मुंबई इंडियंस ने अब तक 5 मैच खेले हैं। जिसमें नाथू को एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। 

संदीप पाटिल कर चुकें हैं तारीफ

भारतीय टीम के चयनकर्ता संदीप पाटिल ने जब उनका यह कारनामा देखा तो बोल पड़े की इसमें मुझे स्पार्क नजर आता है। 

पिता को मिलती है 7 हजार रुपए सैलरी, टिन शेड में रहता है परिवार

नाथू सिंह के पिता भरत सिंह फैक्ट्री में मजदूरी करते हैं। उन्हें 7 हजार रुपए सैलरी मिलती है। लोहे की चादर (टिन शेड) से बने उनके घर में दो कमरे हैं। अपने बचपन को याद करते हुए नाथू सिंह बताते हैं कि जैसे ही उनके पिता फैक्ट्री जाते वो खेलने निकल जाते थे। उनके इस खेलप्रेम को देख कर पिता ने क्लब में एडमिशन कराया। क्योंकि नाथू सिंह की उम्र काफी छोटी थी तो पिता ही उन्हें क्लब तक ले जाया करते थे। इस दौरान कभी सिटी बस में तो कभी साइकिल से ही जाना पड़ता था।

ठीक से हिंदी भी नहीं बोल पाते मजदूर पिता नाथू सिंह के पिता 30 साल से फैक्ट्री में मजदूरी कर रहे हैं। राजस्थान में टोंक के एक गांव में रहने वाले नाथू सिंह के पिता पहले खेती करते थे लेकिन जब पैसे की जरूरत ज्यादा हुई तो फैक्ट्री में काम करने लगे। वो गांव के होने के कारण ठीक से हिंदी भी नहीं बोल पाते। यहीं नहीं क्रिकेट को लेकर भी उनकी समझ न के बराबर है।

145 की रफ्तार से कर सकते हैं बॉल

नाथू सिंह 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लगातार बॉलिंग कर सकते हैं, यहां तक कि वे 145 की रफ्तार को भी छू लेते हैं। ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज बॉलर रहे ग्लेन मैक्ग्रा भी इनकी रफ्तार के कायल हैं। ट्रेनिंग के दौरान मैक्ग्रा ने उन्हें देखकर कहा था कि वे भारतीय क्रिकेट के भविष्य हैं।

दिल्ली में अपने पहले मैच में किया था बड़ा कारनामा

टीम राजस्थान के तेज गेंदबाज नाथू सिंह ने अपने रणजी ट्रॉफी के अपने पहले मैच में यादगार प्रदर्शन करते हुए दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर सहित 7 बल्लेबाजों को पैवेलियन लौटाया। इसके बाद भारतीय टीम के चयनकर्ता संदीप पाटिल ने उन्हें अभ्यास मैच के लिए सिलेक्ट किया। पाटिल ने कहा कि मुझे इस खिलाड़ी में स्पार्क नजर आता है। बोर्ड अध्यक्ष एकादश की टीम 30-31 अक्टूबर को दक्षिण अफ्रीका के बेबोर्न स्टेडियम में अभ्यास मैच खेलेगी।