'1 लाख डाॅलर पहुचेंगी बिटकॉइन की कीमत'

नई दिल्ली ( 11 दिसंबर ): क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन की वैल्यू 1 लाख डॉलर तक पहुंच सकती है। नसीम निकोलस तालेब ने यह बात कही है। नसीम निकोलस तालेब 2008 के वित्तीय संकट की भविष्यवाणी करने वाले दुनिया के टॉप दार्शनिकों में से एक हैं। उन्होंने कहा कि क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन की वैल्यू 1 लाख डॉलर तक पहुंच सकती है। तालेब को 'ब्लैक स्वान' इवेंट्स की भविष्यवाणी करने के लिए जाना जाता है। ब्लैक स्वान इवेंट कोई ऐसी घटना होती है, जो अचानक घटित हो सकती है और उसका प्रभाव व्यापक होता है।

तालेब ने अपने ट्वीट में कहा, 'नहीं, बिटकॉइन की रफ्तार कमजोर होने की कोई संकेत नहीं हैं। जैसे, किसी ने 5K, फिर 10K की संभावना से इनकार नहीं किया, तो अब 100K से भी कोई इनकार नहीं कर सकता है।' उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, 'यह समझना जरूरी है कि बिटकॉइन के स्वाभाविक सेलर्स की संख्या सीमित है। पूरा कॉन्सेप्ट कॉनकेव सप्लाइ (इसमें काफी लागत आती है) पर आधारित है। समय के साथ प्रड्यूसर की संख्या कम होती जाती है।' 

गौरतलब है कि बिटकॉइन की वैल्यू पिछले हफ्ते 19,000 डॉलर के स्तर को पार कर गई।

क्या है बिटकॉइन? एक नई इनोवेटिव डिजिटल टेक्नोलॉजी या वर्चुअल करेंसी है। इसको 2008-2009 में सातोशी नाकामोतो नामक एक सॉफ्टवेयर डेवलपर ने प्रचलन में लाया था।

कंप्यूटर नेटवर्कों के जरिए इस मुद्रा से बिना किसी मध्‍यस्‍थ के ट्रांजेक्‍शन किया जा सकता है। इस डिजिटल करेंसी को डिजिटल वॉलेट में रखा जाता है। बिटकॉइन को क्रिप्टो करेंसी भी कहा जाता है जबकि जटिल कंप्यूटर एल्गोरिथम्स और कंप्यूटर पावर से इस मुद्रा का निर्माण किया जाता है जिसे माइनिंग कहते हैं।

जिस तरह रुपए, डॉलर और यूरो खरीदे जाते हैं, उसी तरह बिटकॉइन की भी खरीद होती है। ऑनलाइन भुगतान के अलावा इसको पारंपरिक मुद्राओं में भी बदला जाता है।