नरोदा पाटिया दंगा मामले में आज गुजरात हाईकोर्ट सुना सकता है फैसला

नई दिल्ली(20 अप्रैल): 2002 में गुजरात के नरोदा पाटिया में हुए सांप्रदायिक दंगे मामले में हाईकोर्ट आज फैसला सुना सकता है। गौरतलब है कि दंगों के मामलों की सुनवाई के लिए बनाई गई स्पेशल ट्रायल कोर्ट ने 2012 में बीजेपी के मंत्री माया कोडनानी और बजरंग दल के बाबू बजरंगी समेत 32 लोगों को दोषी ठहराया था। इसमें माया कोडनानी को आजीवन कारावास और बाबू बजरंगी को जिंदगी की आखिरी सांस तक कारावास की सजा सुनाई गई थी। 

गुजरात हाईकोर्ट कि डिवीजन बेंच जस्टिस हर्षा देवानी और ए एस सुपेहिया ने पिछले साल अगस्त में ही इस मामले में सुनवाई पूरी कर दी थी। नरोदा पाटिया मामले में कुल 11 रिव्यू पिटीशन फाइल की गई थी, जिसमें एसआईटी के जरिए 4 पिटीशन फाइल की गई थी।

गौरतलब है कि गुजरात में 2002 में गोधरा रेलवे स्टेशन पर साबरमती ट्रेन के डिब्बे में हुई कार सेवकों की मौत के बाद पूरे गुजरात में फैले दंगों के दौरान, 28 फरवरी, 2002 को नरोदा पाटिया में हमला हुआ था, जिसमें 97 मुस्लिमों की मौत हो गई थी।