नरेश अग्रवाल के कटाक्ष पर हंसने को मजबूर हुए पीएम मोदी और जेटली

नई दिल्ली (24 नवंबर): पिछले कुछ समय से संसद में ऐसे मौके कम आए हैं जब प्रधानमंत्री समते पूरा सदन एक साथ ठहाका लगाया हो। लंबे असरे के बाद राज्यसभा में आज एकबार ऐसा मौका आया जब सरकार और विपक्ष ने एकसाथ ठहाके लागए। दरअसल राज्यसभा में नोटबंदी पर बहस के दौरान सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री जी आपने तो वित्तमंत्री अरुण जेटली तक को कॉन्फिडेंस में नहीं लिया, कितना सच है पता नहीं, लेकिन अगर लिया होता तो वह हमें कान में जरूर बता देते। यह सुनकर पूरे सदन में ठहाके लगने लगे। खुद पीएम मोदी और अरुण जेटली भी इस पर जोर-जोर से हंसे।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आप (पीएम मोदी) जब भावुक होकर जान को खतरा होने की बात करते हैं तो हमें बहुत दुख होता है। आप उत्तर प्रदेश में बेफिक्र होकर घूम सकते हैं, क्योंकि हमारे राज्य में कानून व्यवस्था अच्छी है। यह सुनकर भी पीएम समेत कई सांसद हंसने लगे।   

उन्होंने पीएम मोदी के भावुक होने को लेकर भी निशाना साधा और कहा कि भावुक प्रधानमंत्री हमारे देश की रक्षा कैसे करेंगे। अगर हमारे प्रधानमंत्री को जान का खतरा हो सकता है तो पाकिस्तान से हमारे देश की रक्षा कौन करेगा?

नरेश अग्रवाल ने सरकार पर आरोप लगाया कि नोटबंदी का फैसला आगामी यूपी चुनावों को ध्यान में रखकर लिया गया है। वित्तमंत्री को भी भरोसे में न लेना कितना सही है। आप काला धन की बात करते हैं, लेकिन विदेशों से अब तक काला धन वापस नहीं आया है।