पीएम मोदी ने चीन बॉर्डर पर जवानों के साथ मनाई दिवाली, खिलाई मिठाई

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (7 नवंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ धाम जाने से पहले भारत-चीन सीमा पर स्थित हर्षिल सेना कैंप पहुंचे, जहां पर उन्होंने जवानों के साथ दिवाली मनाई। उन्होंने जवानों को संबोधित भी किया और उनके देशप्रेम के जज्बे को सलाम किया।

यहां 11 हजार फुट की ऊंचाई पर मौजूद सेना के बेस पर सेना प्रमुख और आईटीबीपी के डीजी से मुलाकात करने के बाद उन्होंने जवानों के साथ दिवाली मनाई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिवाली के मौके पर महार रेजिमेंट के जवानों को पहले मिठाई खिलाई और उसके बाद उनके साथ फोटो खिंचाई।

जवानों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'बर्फ की चोटियों पर सुरक्षा में लगे जवान राष्ट्र की मजबूती बढ़ा रहे हैं और सवा सौ करोड़ देशवासियों के सपने व भविष्य संवारने में लगे हैं।' उन्होंने कहा कि दिवाली रोशनी का पर्व है जो अच्छाई फैलाता है और डर-भय को दूर करता है। प्रधानमंत्री ने कहा,  'जवानों की प्रतिबद्धता और अनुशासन से देश के लोगों में सुरक्षा की भावना पनपती है।' प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि जवानों के साथ तब से दिवाली मना रहे हैं, जब वो गुजरात के मुख्यमंत्री थे।

जवानों से मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ धाम पहुंचे और पूजा-अर्चना की। पीएम बनने के बाद केदारनाथ धाम तीन बार पहुंचे हैं। केदारधाम में पहली बार प्रधानमंत्री ने 2 घंटे का वक्त बिताया। इस दौरान उन्होंने केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों को बारीकी से जाना। वहां लगी फोटो गैलरी में प्रधानमंत्री मोदी को मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने एक-एक जानकारी दी और यह बताया कि कैसे आपदा के बाद से अब तक का पुनर्निर्माण का काम तेजी से केदार घाटी में चला है।