लंदन पहुंचे पीएम मोदी, राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा

नई दिल्ली(18 अप्रैल): भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लंदन पहुंच गए हैं। वह भारतीय समयानुसार तड़के चार बजे के करीब लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पहुंच गए। यहां पीएम मोदी ने ब्रिटेन के विदेश सचिव बोरिस जॉनसन से मुलाकात की। 

लंदन रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने मंगलवार देर रात स्वीडन भारतीय डायसपोरा को संबोधित किया। इस दौरान उनके साथ स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टीफन लवेन भी थे। उन्होंने भारतीय समुदाय के लोगों की स्वीडन के समाज को बनाने में भूमिका की तारीफ की। लवेन ने कहा कि पीएम मोदी के निर्देशन में भारत विकास की सीढ़ियां चढ़ रहा है। अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने अपनी सरकार की जमकर उपलब्धियां गिनाईं, उन्होंने मुद्राधन योजना से लेकर आयुष्यमान भारत तक की कई योजनाओं के बारे में बताया। 

उन्होंने कहा, 'स्वीडन में मेरे और मेरे डेलीगेशन के स्वागत-सत्कार के लिए यहां की जनता और सरकार का, विशेष रूप से स्वीडन के राजा और स्वीडन के प्रधानमंत्री श्रीमान लवेन का, मैं हृदय से आभार व्यक्त करना चाहता हूं।' मोदी ने कहा कि लवेन उन्हें एयरपोर्ट पर रिसीव करने आए और बाद में होटल तक छोड़ने भी गए। पीएम ने कहा कि भाषा अलग हो सकती है, स्थितियां-परिस्थितियां अलग हो सकती हैं, लेकिन एक बात है जो हम सभी को एक सूत्र में पिरोती है, और वो बात है भारतीय होने का गर्व। अफ्रीका हो या पैसिफिक ओसीन के छोटे देश, या फिर आसियान या यूरोप या एशिया, सभी आज भारत को एक विश्वसनीय साथी, एक भरोसेमंद मित्र के रूप में देख रहे हैं।  पिछले 4 वर्षों में हमारे द्वारा एक के बाद एक ऐसे कदम उठाए गए हैं, जिनसे भारत में दुनिया की आशा और विश्वास बढ़े हैं। 

राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा

राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी का विशेष स्वागत किया जाने वाला है। यूके की पीएम थेरेसा मे ने पीएम मोदी के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। पीएम मोदी को बकिंघम पैलेस में रानी के साथ निजी बैठक आयोजित कर आमंत्रित किया गया है। 2009 के बाद राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन में मोदी बतौर भारतीय प्रधानमंत्री पहुंच रहे हैं। जहां वह पीएम थेरेसा मे की मेजबानी में उनसे मुलाकात करने वाले हैं। बता दें कि ये रानी एलिजाबेथ II का आखिरी राष्ट्रमंडल सम्मेलन है। 

18 अप्रैल को मोदी पूरे दिन द्विपक्षीय सम्मेलन में भाग लेंगे जिसमें प्रिंस चार्ल्स द्वारा उनके लिए आयोजित एक विशेष तकनीक कार्यक्रम होगा। यूके-इंडिया, दोनों देशों के लिए ये कार्यक्रम काफी महत्वपूर्ण समझा जा रहा है। प्रिंस चार्ल्स यहां एक टाटा इलेक्ट्रिक जगुआर में पहुंचेंगे।

#Watch: Prime Minister Narendra Modi arrives at Heathrow Airport in London. He will hold a meeting with the UK's Foreign Secretary Boris Johnson in London. pic.twitter.com/f2sqFsYq2z

— ANI (@ANI) April 17, 2018