''मंत्रियों के दफ़्तर में जाते वक्त घबराती हैं महिला अफ़सर''

नई दिल्ली (19 जुलाई): विधान परिषद में पहले ही दिन कांग्रेस के विधायक नारायण राणे ने अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराते हुए सरकार पर जमकर वार किए। राणे ने कहा कि महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के कई मंत्रियों के दफ़्तर में जाते वक्त महिला अफ़सर घबराती हैं।

राणे के इस बयान का विधानसभा में विरोध हुआ, लेकिन वह रूके नहीं। नियम 289 के तहत अहमदनगर रेप मामले में बोलते हुए उन्होंने महाराष्ट्र मंत्रिमंडल को भी आरोप के घेरे में ले लिया। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के कई मंत्रियों के दफ़्तर में जाते वक्त महिला अफ़सर घबराती हैं।

कांग्रेस विधायक नारायण राणे के आरोप पर महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने नाराज़गी जताई है। महाराष्ट्र मंत्रिमंडल का कहना है कि वह राणे के इस बयान के खिजाल विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाएगी।