नांदेड़ के मराठा मोर्चे ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, नेता बने भीड़ का हिस्सा

नई दिल्ली (18 सितंबर): अहमदनगर के  कोपरडी में मराठा समाज की युवती के साथ हुए बलात्कार और हत्या के विरोध में मराठवाड़ा के उस्मानाबाद,लातुर,हिंगोलीऔर बीड के बाद नांदेड़ में निकले मोर्चे ने भीड़ के अबतक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये। एक अनुमान के अनुसार इस प्रदर्शन में लगभग 20 लाख लोगों ने हिस्सा लिया। 

इस मोर्चे में महिला और युवाओं की भीड़ ज़्यादा थी, हमेशा मोर्चे में नेताओं के हाथ में कमान होती है लेकिन इस बार नेता शामिल हुए लेकिन नेतृत्व इनके नहीं बल्कि आम मराठा माणूस के पास था। इस मोर्चे की समाप्ति कलेक्टर दफ्तर में हुए जहाँ महिला और युवतीयो ने कलेक्टर सुरेश काकानी को निवेदन पत्र सौंपा। इस मोर्चे में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और सभी राजनैतिक दलों के विधायक भी भीड़ का एक हिस्सा बने।