पार्क में कोई ना पढ़ सके नमाज, पुलिस बल तैनात

Photo: Internet

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 दिसंबर): नोएडा के सेक्टर 58 के पार्क में नमाज अदा करने पर लगी रोक के बाद आज पहला शुक्रवार है। आज कोई पार्क में जुम्मे की नमाज अदा न करे इसको लेकर प्रशासन ने खास तैयारियां की हैं। एहतियातन पार्क के आस पास बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। पुलिस ने आम लोगों की शिकायत के बाद इस पार्क में नमाज अदा करने पर रोक लगा दी थी।

पुलिस की रोक के बाद अब आसपास की कंपनियों के कर्मचारी दूसरे पार्क की मांग करेंगे। कर्मचारियों का कहना है कि अभी हम लोग डरे हुए हैं। उस पार्क में नमाज भी अदा नहीं कर रहे हैं। कुछ दिन के बाद कर्मचारी डीएम व सिटी मजिस्ट्रेट से मिलकर दूसरे पार्क में नमाज पढ़ने की अनुमति मांगेंगे।

नोएडा पुलिस के इस आदेश को भले ही राजनैतिक पार्टियां गलत बता रही हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष तनवीर हैदर उस्मानी ने इसे सही ठहराया। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश का पालन करते हुए पुलिस ने रोक लगाई है। सर्वोच्च अदालत ने सार्वजनिक स्थल पर धार्मिक कार्यक्रम करने पर मनाही का आदेश दिया था। नमाज पढ़ने से पहले आपको परमिशन लेनी चाहिए थी। नमाज पढ़ने के लिए पार्क ही जगह नहीं है। सांप्रदायिक माहौल प्रदेश का न बिगड़े, यह हमारी खुद की भी जिम्मेदारी है।

वहीं इस मामले में यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने नोएडा पुलिस द्वारा मुस्लिमों को एक सार्वजनिक पार्क में नमाज अदा करने से रोकने का आदेश 'भेदभावपूर्ण और गैरजिम्मेदाराना' बताया और कहा कि इसका मकसद 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा सरकार की विफलताओं को छिपाना है।

बता दें कि पिछले दिनों गुड़गांव में सार्वजनिक जगहों पर नमाज पढ़ने को लेकर बवाल हुआ था। हरियाणा के सीएम खट्टर की टिप्पणी भी सामने आई थी कि नमाज बाहर नहीं ईदगाह या मस्जिद में ही पढ़ी जानी चाहिए।