जेएनयूः नजीब की गुमशुदगी में गडबड़ी, मिटाये गये जामिया के सीसीटीवी फुटेज !

नई दिल्ली (18 नवंबर): पुलिस को  जेएनयू छात्र नजीब अहमद की गुमशुदगी केस में कुछ गड़बड़ की आशंका होने लगी है। जामिया प्रशासन से दिल्ली पुलिस ने जो सीसीटीवी फुटेज मांगा था उस में उस दिन का क्लिप नहीं है जिस दिन ऑटो से नजीब जामिया आया था।  अब दिल्ली पुलिस की जांच टीम  इन तस्वीरों को हासिल करने के लिए अपराध विज्ञान प्रयोगशाला की मदद ले रही है।जामिया मिलिया इस्लामिया प्रशासन ने शुरूआती इनकार के बाद दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा से सीसीटीवी फुटेज साझा किया है लेकिन उसने बताया कि 18 अक्तूबर से पहले की अवधि का फुटेज उपलब्ध नहीं है। अपराध शाखा नजीब अहमद की गुमशुदगी की जांच कर रही है। 

जांच दल ने एक ऑटो-रिक्शा ड्राइवर का पता लगाया है जिसने उसे बताया कि उसने 15 अक्तूबर नजीब को जामिया मिलिया इस्लामिया पहुंचाया था।
एक पुलिस सूत्र ने कहा, ‘‘हमने जामिया प्रशासन से संपर्क किया और उसने हमें बताया कि 18 अक्तूबर तक की अवधि के फुटेज को मिटा दिया गया है चूंकि क्लिप एक महीने तक के लिए रखे जाते हैं। हम 15 अक्तूबर का फुटेज हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं ताकि जामिया परिसर में नजीब की आवाजाही का पता चल सके। हमने कैमरे एफएसएल को भेजे हें ताकि हमें नजीब के मामले में कुछ सुराग मिल सके।’