गंगोत्री और यमुनोत्री ग्लेसियरों को इंसानों जैसे अधिकार: उत्तराखंड हाईकोर्ट

कमल जगाती, नैनीताल (31 मार्च): उत्तराखंड हाईकोर्ट की नैनीताल खंडपीठ ने एक और ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए गंगोत्री और यमुनोत्री ग्लेसियरों के साथ हवा, पानी, नदियों, धाराओं, श्रोतो, जंगलों को जीवित मनुष्य का दर्जा और अधिकार देते हुए सभी मौलिक अधिकार दे दिए हैं। न्यायालय ने नमामी गंगे से जुड़े सभी विभागों को इन नए जीवित व्यक्तियों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने को कहा है। साथ में न्यायालय ने इन नए जीवित व्यक्तियों को नुक्सान पहुंचाने वाले के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने को कहा है।