भारी सुरक्षा के बीच आखिरकार 20 दिन बाद हुआ आनंदपाल का अंतिम संस्कार

नई दिल्ली(13 जुलाई): पुलिस एनकाउंटर में मारा गया कुख्यात अपराधी आनंदपाल का 20वें दिन अंतिम संस्कार हो गया। गुरुवार दोपहर बाद पुलिस प्रशासन ने मानवाधिकार आयोग द्वारा जारी किए गए नोटिस की तामिल की कार्रवाई के बाद अंतिम संस्कार की कार्रवाई शुरु कर दी थी।

- इससे पहले आनंदपाल एनकाउंटर की सीबीआई मांग लेकर राजपूत समाज के लोगों ने जमकर हंगामा किया। बुधवार की रात कई वाहनों में आगजनी भी की गई थी। आनंदपाल के गांव और आस-पास के इलाके में भारी पुलिस बल तैनात है।- सुबह से राजस्थान के जेल डीजी और राजपूत अधिकारी अजीत सिंह को परिवार को दाहसंस्कार करने के लिए राजी करने के लिए लगा रखा था। दिन में ढाई बजे पुलिस ने आनंदपाल के घर पर मानवाधिकार आयोग का नोटिस घर पर चस्पा किया गया था कि आप 24 घंटे के अंदर दाह संस्कार कीजिए। इसके लिए मानवाधिकार ने आनंदपाल के लाश के मानवाधिकार और उसकी प्रतिष्ठा का सवाल बनाया था। मगर चार घंटे बाद ही दाह संस्कार कर दिया गया।- राजस्थान पुलिस के अनुसार गांव में एक घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई थी और दाह संस्कार के लिए एक जगह एकत्रित होने के लिए कहा गया था।