नाभा जेल ब्रेक का मुख्य आरोपी हांगकांग में गिरफ्तार

नई दिल्ली (24 फरवरी): पंजाब की नाभा जेल से कैदियों के भागने वाला मुख्य आरोपी रमनजीत सिंह उर्फ रोमी को हांगकांग में गिरफ्तार किया गया है। रमनजीत को एक डकैती के सिलसिले में, वहां गिरफ्तार किया गया है।

संगठन अपराध नियंत्रण इकाई (ओसीसीयू) के एआईजी जीएस चौहान ने कहा, 'हमें अलर्ट मिला कि रोमी को एक डकैती के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।' अधिकारी के अनुसार पंजाब पुलिस ने उसके प्रत्यर्पण की कार्रवाई शुरू करने के लिए विदेश मंत्रालय के समक्ष यह मामला उठाया है।

रोमी को इससे पहले 2016 में गिरफ्तार किया गया था। उसे बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया। उसी दौरान वह हांगकांग भाग गया। रोमी के लापता होने के बाद उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। संदेह है कि 2016-17 में जालंधर और लुधियाना में हुई हत्याओं में भी उसकी भूमिका थी।

पंजाब पुलिस के मुताबिक वह गैंगस्टर गुरप्रीत सिंह शेखों के संपर्क में था। गुरप्रीत उन छह लोगों में शामिल था जो नवंबर, 2016 में नाभा जेल से भाग गये थे। गुरप्रीत इस कांड का मुख्य साजिशकर्ता था। पुलिस का कहना है कि माना जाता है कि रोमी ने जेल से भागने वालों को इस काम के लिए पैसे उपलब्ध कराये थे।

पंजाब की अत्यधिक सुरक्षा वाली जेल से भागने वाले 6 कैदियों में ओसीसीयू ने पिछले साल फरवरी में तीन गैंगस्टर- नीता देओल, गुरप्रीत सेखों, अमन ढोटियां और खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) मुखिया हरमिंदर सिंह मिंटू को गिरफ्तार किया था। जबकि एक गैंगस्टर विकी गौंडर पुलिस मुठभेड़ में मारा गया था और छठा कैदी सिख उग्रवादी बाबा कश्मीर सिंह अभी भी गिरफ्त से बाहर है।