रोहिंग्या मुसलमानों की वापसी को म्यांमार तैयार, मगर सत्यापन के बाद !

नई दिल्ली (29 सितंबर): म्यांमार की सरकार रोहिंग्याओं को वापस लेने को तैयार हो गयी है। म्यांमार सरकार ने कहा है कि जो रोहिंग्या वापस आना चाहते हैं उन्हें पहले अपना सत्यापन कराना होगा। म्यांमार और बांग्लादेश के बीच 1993 में बनी सहमति के पर यह सत्यापन प्रक्रिया तौंगप्यो लातवे और नगुआ गांव में की जाएगी. जो लोग सड़क मार्ग से लौटना चाहते हैं वह तौंगप्यो लातवे और जो समुद्र मार्ग से लौटना चाहते हैं वह नगुआ गांव में अपना सत्यापन कराएंगे।