म्यांमार दौरे पर बहादुर शाह ज़फर की कब्र पर जाएंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली (1 सितंबर): मोदी म्यांमार के राष्ट्रपति यू हटिन क्याव के निमंत्रण पर पांच से सात सितंबर तक वहां का दौरा करेंगे। ऐसे में खबर आ रही है कि पीएम मोदी यात्रा के दौरान मुगल बादशाह बहादुर शाह ज़फर की कब्र पर भी जाएंगे।

इस दौरान म्यांमार में यह पीएम मोदी की पहली द्विपक्षीय यात्रा होगी। म्यांमार दौरे के दौरान मोदी पारस्परिक हितों पर स्टेट काउंसलर आंग सान सू की के साथ वार्ता करेंगे और राष्ट्रपति क्याव से भी मुलाकात करेंगे।

बहादुर शाह जफर म्यांमार में दफन किया था बता दें कि बहादुर शाह जफर को 7 अक्टूबर 1857 को गिरफ्तार करके म्यांमार रवाना किया गया था। उन्हें 1857 की बगावत की कीमत अदा करनी पड़ी थी। जिस बादशाह के पूर्वजों ने बड़े-बड़े राजा-महाराजाओं के तख्ते पलट दिए। उनकी सेनाओं और महलों को नेस्तानाबूत कर दिया, उसी अंतिम मुगल बादशाह को अंग्रेजों ने उसके परिवार-बेगमों, रखैलों, नौकरों समेत सभी को बैलगाड़ियों पर बैठाकर म्यांमार के लिए रवाना कर दिया था।

बहादुर शाह जफर गुमनामी की जिंदगी जीते हुए नवंबर 1862 में दुनिया से विदा हुए। बहादुरशाह जफर को एक गुमनाम जगह पर दफनाने के बाद उसके आसपास बांसों की बाड़ लगा दी गई। बाद में वहां काफी झाड़ियां उग आई और यह कब्र लगभग लापता ही हो गई। म्यांमार सरकार ने 1991 में इसकी खोज व रखरखाव का काम शुरु किया और तब ईंटों के नीचे दबी कब्र का पता चला।