म्यांमार में भीड़ ने मस्जिद में तोड़फोड़ के बाद आग लगाई, ढहाया

नई दिल्ली (2 जुलाई): म्यांमार में सशस्त्र भीड़ ने शनिवार को एक मस्जिद को बुरी तरह से नुकसान पहुंचाने के बाद ढ़हा दिया। स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट्स से इसकी जानकारी मिली है। बौद्ध-बहुल राष्ट्र में मुस्लिम-विरोधी हिंसा का यह अपने तरह का एक सप्ताह के भीतर दूसरा मामला है।

'इंडियन एक्सप्रेस' की रिपोर्ट के मुताबिक, म्यांमार में धर्म को निशाना बनाकर हिंसा की घटनाएं पिछले कुछ सालों में होती रही हैं। क्षेत्रवादी तनाव बढ़ने के साथ बौद्ध राष्ट्र में आंग सान सू की की सरकार के सामने बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है।

शुक्रवार को उत्तरी कचीन राज्य में हपकंत गांव के निवासियों ने एक मस्जिद को ढ़हा दिया। उन्होंने कई हथियारों से इसे नुकसान पहुंचाने के बाद इसमें आग लगा दी। म्यामांर के सरकारी ग्लोबल न्यू लाइट ने इसकी जानकारी दी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, भीड़ बिल्कुल नियंत्रण के बाहर थी। अभी किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए वहां सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

गौरतलब है, ये दंगा आठ दिन पहले बौद्ध भीड़ की तरफ से सेंट्रल बागो में मस्जिद को नुकसान पहुंचाने के बाद हुआ है। इस वजह से मुस्लिमों को नजदीकी कस्बों में पलायन कर जाना पड़ रहा है।

पश्चिमी राखिने में भी तनाव बढ़ रहा है। जहां 2012 में हिंसक दंगे हुए थे। जिसके बाद समुदाय पूरी तरह से धार्मिक आधार पर बंट गए थे।