मुजफ्फरनगर रेल हादसे में बड़ी लापरवाही की बात आई सामने

राहुल प्रकाश, कुंदन सिंह, खतौली(20 अगस्त): मुजफ्फरनगर के पास खतौली में हुए रेल हादसे में बड़ी लापरवाही की बात सामने आई है। बताया जा रहा है कि हादसे से कुछ देर पहले वहां पर पटरी की मरम्मत का काम हो रहा था। लेकिन जैसे ही बारिश शुरू हुई काम करने वाले वहां से चले गए, हालांकि पटरी रिपेयर करने वाले औजार अभी भी वहीं पड़े हुए हैं।

- कुछ चश्मदीदों का दावा है कि हादसा लापरवाही की वजह से हुआ है। चश्मदीदों के मुताबिक खतौली के पास जहां हादसा हुआ वहां पर पटरी की मरम्मत का काम चल रहा था।

- बताया जा रहा है कि हादसे वाली जगह पर ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाया और ट्रेन पटरी से उतर गई। ऐसे में सवाल ये है कि अगर ट्रैक को ठीक करने का काम हो रहा था तो ड्राइवर को जानकारी क्यों नहीं दी गई।

- पटरी पर काम चल रहा था तो ड्राइवर को सूचना दी जानी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ जो बड़ी लापरवाही बताता है। हादसे के वक्त रेल 100 किमी प्रतिघंटा की स्पीड से दौड़ रही थी। सामान्य तौर पर रेल को इतनी ही रफ्तार में दौड़ना चाहिए, लेकिन मरम्मत के वक्त स्पीड कम करा दी जाती है, लेकिन यहां पर ऐसा नहीं हुआ इसलिए साफ-साफ बड़ी लापरवाही नजर आ रही है।