इस तेल का करें इस्तेमाल, नहीं आएगा हार्ट अटैक, कैंसर से भी रहेंगे दूर

न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (10 अगस्त)हमारे शरीर का मुख्य अंग है हार्ट। यह बिना रूके 24 घंटे लगातार काम करता रहा है। जैसे ही यह काम करना बंद करता है इंसान की मौत हो जाती है। ऐसे में हमें अपने दिल का खास ख्याल रखना चाहिए। हम अपने खानपान के जरिए दिल और सेहत का ख्याल रख सकते हैं। जानकारों के मुताबिक खाने में सरसों के तेल के इस्तेमाल से हम दिल की बिमारी से दूर रह सकते हैं।


सरसों के तेल के फायदे...

- सरसों के तेल में भरपूर मात्रा में मोनोअनसैचुरेटिड फैट और पॉलीअनसैचुरेटिड फैट पाया जाता है, जो खराब कोलेस्ट्रॉल को घटाने में मदद करते हैं और अच्छे एचडीएल कोलेस्ट्रॉल बढ़ाते हैं, ताकि कोलेस्ट्रॉल का बैलेंस बना रहे। इससे दिल हेल्‍दी बना रहता है और सही तरीके से काम करता है। 

- सरसों का तेल एक जीवाणुरोधी, वायरसरोधी और फंफूद रोधी एजेंट के रूप में भी अच्छी तरह काम करता है और पाचन तंत्र में बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। 

- इसमें ओमेगा-3 और ओमेगा-6 वसा अम्ल के सर्वोत्तम अनुपात और संतृप्त वसा की कम मात्रा के कारण अन्य तेलों से यह बेहतर है। इसमें करीब 60 फीसदी मोनोसैचुरेटिड वसा (एमयूएफए), साथ ही पॉलीअनसैचुरेटिड वसा और संतृप्त वसा होती है। ये वसा अम्ल 'उपयुक्त वसा' माने जाते हैं।

- इसमें ओमेगा-3 और ओमेगा-6 वसा के साथ-साथ एमयूएफए और पीयूएफए के अम्ल होते हैं। ये उपयुक्त वसा हृदय रोगों के विकास के जोखिम को कम करते हैं और यह एक बेहद शक्तिशाली प्राकृतिक उत्तेजक है, जो पाचन में सुधार करता है और पाचन रसों को तैयार करने में मदद कर भूख बढ़ाता है।

- इसमें कैंसर से लड़ने वाले तत्व काफी अधिक होते हैं और इसमें भारी मात्रा में लिनोलिनिक एसिड होता है, जो ओमेगा-3 वसा अम्ल में परिवर्तित हो जाता है और कैंसर को रोकने में मदद करता है।