तीन तलाकः 'मर्द तो शरीयत ही मानेंगे'

नई दिल्ली (17 अप्रैल): समाजवादी पार्टी नेता आज़म खान ने 'तीन तलाक' पर कहा है कि अगर शरीयत कानून के खिलाफ जाकर कोई कानून बनाया जाता है तो मुस्लिम मर्द शरीयत कानून को ही मानेंगे। उन्होंने कहा कि 'तीन तलाक' के मुद्दे के बारे में देश नहीं जानता है और जो लोग शरीयत के खिलाफ जाते हैं, उनका सामाजिक बहिष्कार कर दिया जाता है। 


सपा नेता का यह बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि तीन तलाक से मुस्लिम बहनों को दिक्कत हो रही है और केंद्र सरकार इस पर जल्द हल चाहती है. पीएम मोदी ने ओडिशा के भुवनेश्वर में आयोजित बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी के आखिरी दिन रविवार को कहा कि बीजेपी का रुख तीन तलाक मुद्दे पर बिल्कुल साफ है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ ने भी कहा है कि जब इंडियन पीनल कोड एक है तो कॉमन सिविल कोड भी एक ही होना चाहिए।