यूपी में सपा की जीत के जश्न में बुझा एक घर का चिराग

शामली (8 फरवरी): यूपी के शामली में जीत के जश्न से एक घर का चिराग बुझ गया। ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में जीत की खुशी में जब समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता फायरिंग कर जश्न मना रहे थे तो एक गोली वहां से गुजरनेवाले 10 साल के बच्चे को लग गई। जिसकी अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में ही मौत हो गई है। पुलिस ने अज्ञातलोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

हैरत की बात ये है कि जिस वक्त बीच सड़क पर जश्न के नाम पर ये गुंडागर्दी चल रही थी। तमंचे पर डिस्को हो रहा था उस वक्त वहां पुलिसवाले भी थे लेकिन वो एकदम मूकदर्शक बनकर जश्न की शोभा बढ़ाने में लगे थे। वो ना तो किसी को ऐसा करने से रोक रहे थे ना ही खुलेआम हथियार लहराने पर ऐतराज जता रहे थे।

हालांकि जश्न में शामिल कुछ लोग इन फायरिंग करनेवालों को रोकने की कोशिस तो जरूर कर रहे थे लेकिन सत्ता की हनक में चूर ये कार्यकर्ता किसी की बात मानने वाले कहां था। लिहाजा समझानेवालों की बातों को दरकिनार कर ये लगातार फायरिंग करते रहें। करीब आधे घंटे तक बीच सड़क पर ऐसे ही कोहराम मचता रहा।

लेकिन बच्चे की मौत के बाद जब परिजनों ने पूरे मामले की शिकायत पुलिस में की तो हरकत में आई। पुलिस ने 5 नामजद लोगों समेत कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

खुलेआम तमंचे पर तांडव करनेवाले ये कार्यकर्ता कैराना ब्लाक में सपा प्रत्याशी नफीसा की जीत का जश्न मना रहे थे, लेकिन इनकी जीत की खुशियों ने एक दूसरे घर की खुशियों को गम में बदल दिया।