आत्मा को देखने के चक्कर में परिवार के 4 लोगों को मार डाला

केरला (12 अप्रैल): केरला से एक दिल दहला देने वाली खबर आई है। एक सनकी बेटे ने आत्मा देखने के लिए अपने ही परिवार के चार लोगों की निहायत ही बेहरमी से हत्या कर दी। 29 साल के जेंसन रजा उर्फ कोडेल ने पहले पिता की हत्या की, फिर मां को मारा और फिर बहन की जान ले ले ली। पुलिस की पूछताछ में कोडेल ने बताया कि वो देखना चाहता था कि आत्मा शरीर से कैसे निकलती है। चार हत्या करने के बाद उसने लाशों को पेट्रोल डालकर जला भी दिया, ये सनकी शैतान अब पुलिस के शिकंजे में है।


हत्या करने के बाद जब उसे आत्मा का दर्शन नहीं हुआ तो लाशों को ठिकाने लगाने के लिए घर में ही पेट्रोल से आग लगा दी। आग लगाने से पहले शव को धारदार हथियार से कई टुकड़े कर दिए। जलाने से पहले उसने पूरा दिन लाशों के साथ घर में ही गुज़ारा। पुलिस जब घर में में दाखिल हुई तो चारों तरफ उसके गुनाहों से सबूत बिखरे हुए थे।


कहा जा रहा है कि सूक्ष्म आत्मा की खोज के दौरान प्रयोग के तौर पर ये चारों हत्याएं कीं। सूक्ष्म आत्मा की खोज क्रिया के तहत इंसान के शरीर से उसकी आत्मा को अलग कर प्रयोग करना होता है। इस टेक्निक के लिए उसने एक ही दिन में चार हत्याएं कीं फिर भी उसे पता नहीं चला कि आत्मा होती क्या है। कहा जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया से पढ़कर लौटने के बाद कोडेल इस तरह की बहकी हुई बातें करता था, लेकिन किसी को आंदाज़ा तक नहीं था कि जो बहकी बहकी बातें ये करता है उसे एक दिन ये अपनों को मार कर पूरा करने की कोशिश करेगा।


पुलिस के मुताबिक आत्मा ददर्शन के लिए हत्या से पहले उसने पिता प्रो. राजाराम थंकन, मां  डॉ. जीन पदृमा और बहन कैरोल को खाना खिलाया था। ये खाना उसने घर में काम करने वाली मेड से बनवाया था और फिर उसे घर भेज दिया था। लाशों को बदबूदार होने से छिपाने के लिए फेनायल भी खरीदा था, जिस बारे में पुलिस ने पता लगा लिया है। पूछताछ में कोडेल ने बताया कि उसने आत्मा दर्शन के लिए ये हत्याएं की, लेकिन पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि कहीं जुए की लत में तो उसने पूरे परिवार की हत्या तो नहीं की। क्य़ोंकि शुरूआती जांच में पता चला है कि कोडेल को जुए की भी लत है।


आत्मा देखने के लिए माता-पिता और बहन की हत्या करने वाला ये शैतान काफी पढ़ा लिखा है। कोडेल एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए फिलीपींस गया था, लेकिन उसने बीच में ही ये कोर्स छोड़ दिया और कंप्यूटर इंजीनियरिंग की तरफ उसका झुकाव हो गया। बाद में उसने ऑस्ट्रेलिया में इंजीनियरिंग की पढ़ाई की, लेकिन वहां से निष्कासित होने पर वापस घर आ गया। ऐसी खबर हैं कि उसने एक गेम सर्च इंजन विकसित किया है, जिसे एक मल्टीनेशनल कंपनी को बेच दिया था। इससे उसे काफी पैसे भी मिले थे। पुलिस अब हर एंगल से मामले की जांच कर रही है।


कहा जाता है कि कोडेल बहुत ही कम समाज में उठता बैठता था। ज़्यादातर समय वो बंद कमरे में बिताता था। पड़ोसी कहते हैं कि कोडेल दोस्त भी नहीं बनाता था। अगर कोई उसे कुछ पूछता थो खामोशी से जवाब देखकर आगे बढ़ जाता है। किसी को भी अंदाज़ा नहीं था कि इसके दिमाग में खूनी साज़िश चल रही है।