मौत के बाद सामने आई मुन्ना बजरंगी की फोटो पर खड़े हुए सवाल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 जुलाई): मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ एफआईआर हो गई तो उधर मुन्ना बजरंगी की फोटो पर सवाल खड़े हो रहे हैं। मौत के बाद जारी किए गए फोटो पर परिवार ने सवाल उठाए हैं। परिवार का कहना है कि पूरी तैयारी से की गई हत्या।

इन दोनों फोटो में अंतर दिख रहा है। पहले वाले फोटो से अलग दूसरे में बनियान और अगल-बगल में गोली के ज्यादा निशान दिख रहे हैं, जिसको लेकर ये माना जा रहा है मरने के बाद फोटो लिया गया और तसल्ली के लिए फिर गोली मारी गई। जिसके चलते चेहरा झटके से नीचे की ओर गिर गया। हालांकि मुन्ना बजरंगी के कत्ल का लाइव वीडियो पुलिस को कभी नहीं मिलेगा, क्योंकि जेल में जिस जगह उसे गोली मारी गई, वहां सीसीटीवी नहीं है। लेकिन जेल के हाईसिक्योरिटी जोन में जिस तरह उसकी हत्या हुई, उसको लेकर तमाम तरह के सवाल खड़े किये जा रहे हैं ?

दरअसल जो दो फोटो जारी किए गए हैं, उसमें एक में गोली के निशान हैं जबकि दूसरे में गोली के निशान नहीं दिख रहे हैं। वहीं मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में इस्तेमाल पिस्टल बरामद कर ली गई है। पहले ये बताया जा रहा था कि पिस्टल को टॉयलेट के कमोड में फेंक दिया गया था। बाद में पिस्टल को गटर से बरामद कर लिया गया।

आपको बता दें कि मुन्ना बजरंगी को हाईसेक्यूरिटी सेल में 9 एमएम पिस्टल से 9 गोलियां मारी गईं और वो वहीं ढेर हो गया। झांसी जेल से रविवार रात मुन्ना बजरंगी को बागपत लाया गया था। यहां की जेल के सेल नंबर 2 के कैदी को दूसरे बैरक में शिफ्ट कर मुन्ना बजरंगी को उसमें रखा गया। सुबह के वक्त जब उसे सेल से बाहर लाया गया तो वो अहाते में बैठ गया और वहीं उसे सिर में गोली मार दी गई।

मुन्ना बजरंगी की हत्या का इल्जाम गैंगस्टर सुनील राठी पर है। जेलर की तहरीर पर उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि पूछताछ में सुनील राठी ने पुलिस से कहा, '' जिस पिस्टल से हत्या की गई, वो मुन्ना बजरंगी की थी। मैंने आत्मरक्षा में उसे छीनकर गोली चलाई।''