जबलपुर ऑर्डिनेंस फैक्ट्री से तस्करी कर मुंगेर लाया गया था AK-47, रक्षा मंत्रालय हैरान

अमिताभ ओझा, न्यूज 24, पटना (6 सितंबर): पिछले दिनों बिहार के मुंगेर से बरामद 3 एके-47 के तार मध्यप्रदेश को जबलपुर ऑर्डिनेंस फैक्ट्री से जुड़ गए हैं। 29 अगस्त को 3 एके 47 रायफल के साथ इमरान खान नाम का शख्स मुंगेर में पकड़ा गया था जिसने पूछताछ में जबलपुर से हथियार लाने की बात बताई है। इमरान के बयान के आधार पर पुरुषोत्तम नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया जो जबलपुर का रहनेवाला है। पुरुषोत्तम ही जबलपुर से हथियार लेकर मुंगेर आया था और उसने पूछताछ में जबलपुर सीओडी के इंचार्ज सुरेश ठाकुर का नाम बताया था। जिसके बाद जबलपुर में सुरेश ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में सामने आया है कि ऑर्डिनेंस डिपो से हथियारों की बड़ी खेप बिहार पहुंची है।31 अगस्त को अवैध हथियारों की तस्करी के लिए कुख्यात बिहार के मुंगेर जिले में बिहार का क्राइम ब्रांच ने 3 एके-47 और अन्य हथियार सहित हथियार तस्कर इरफान को पकड़ा था। इरफान ने केंद्रीय सुरक्षा संस्थान ऑर्डिनेंस फैक्ट्री खमरिया, जबलपुर के कर्मचारी का नाम लिया था। इरफान ने पुलिस को बताया था कि पूर्व आर्मर के कहने पर ये तस्करी की गई थी। इसके बाद क्राइम ब्रांच की टीम मुंगेर गई और वहां पर दबिश देकर सेंट्रल आर्डनेंस डिपो (सीओडी) के पुराने कर्मचारी पुरुषोत्तम लाल को हिरासत में ले लिया। क्राइम ब्रांच प्रमुख एएसपी शिवेश सिंह बघेल के नेतृत्व में संदेही पुरुषोत्तम लाल से एके-47 रायफल और कलपुर्जों के बारे में पूछताछ चल रही है।