5 साल पहले हो गई मौत, अब सोने में जड़ित होकर पहाड़ से देंगे ये 'संदेश'...

नई दिल्ली (2 मई) :  एक चीनी बौद्ध भिक्षु जिसकी 2012 में मौत हो गई थी, उसके शव पर सोने के पत्र चढ़ाकर शीशे के केस में रखा जाएगा। 'फु होऊ' नाम के इन बौद्ध भिक्षु के शव को एक पहाड़ पर रखा जाएगा।  

फु होऊ बौद्ध धर्म के लिए पूरी तरह समर्पित थे। उन्होंने 13 वर्ष की उम्र में बौद्ध धर्म की दीक्षा लेनी शुरू की थी। फिर वो उसका 94 वर्ष की उम्र तक कड़ाई से पालन करते रहे।

टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक फु होऊ की इच्छा थी कि मृत्यु के बाद भी उनके शव को संरक्षित रखा जाए। उनके शव को दो ममीफिकेशन एक्सपर्ट्स ने बैठी हुई मुद्रा में संरक्षित रखने के लिए तैयार किया और एक जार में रखा।

ममीफिकेशन के तीन साल बाद फु होऊ की पार्थिव देह अच्छी तरह संरक्षित पाई गई। फु होऊ के पार्थिव देह को जाली, रोगन और स्वर्ण पत्र से मंडित कर शीशे के एक केस में पहाड़ के ऊपर रखा जाएगा। इससे वो लोगों को बौद्ध धर्म का संदेश देते रहेंगे।