First On News24: भारत नहीं आएगा जाकिर नाइक, प्रेस कांन्फ्रेंस रद्द

नई दिल्ली(11 जुलाई): जांच एजेंसियों के निशाने पर आ चुके इस्लामिक धर्मगुरु डॉ.जाकिर नाईक के मझगांव स्थित घर मुंबई पुलिस पहुंच चुकी है। बता दें जाकिर सोमवार को मक्का से भारत लौट रहे हैं। मुंबई पुलिस ने उनके घर की सुरक्षा बढ़ा रखी है। लेकिन वह उनपर कोई भी कार्रवाई बहुत ही सधे कदमों से करना चाहती है।

डॉ. जाकिर नाईक पर आरोप लग रहे हैं कि बांग्लादेश में एक कैफे पर हमला कर 22 लोगों की जान लेनेवाले आतंकियों में से एक रोहान उनके भाषणों से प्रेरित था। एक बांग्लादेशी अखबार द्वारा इस तथ्य का खुलासा होने के बाद नौ जांच एजेंसियां उनके पीछे लग गई हैं। महाराष्ट्र सरकार के गृहमंत्रालय ने मुंबई पुलिस को उनके भाषणों की जांच के आदेश दे दिए हैं।

राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर नौ अलग-अलग जांच एजेंसियां डॉ. नाईक की संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ), उनके चैनल पीस टीवी पर प्रसारित उनके भाषणों एवं उनकी संस्था को विदेश से मिल रही आर्थिक मदद की जांच में जुट गई हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉ. नाईक के मुंबई पहुंचने के बाद पुलिस उनसे पूछताछ कर सकती है। लेकिन आतंकी संगठनों से उनके संबंध होने के पुख्ता सबूत मिले बगैर उनपर कोई सख्त कार्रवाई किए जाने की उम्मीद कम ही है।