जैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर मुम्बई

मुंबई ( 18 अक्टूबर ): देश की अर्थीक राजधानी मुम्बई पर एक बार फिर आतंकी खतरा मंडरा रहा है, इस बार जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी भारत को निशाना बनाने वाले हैं, जिनका मुख्य निशाना मुम्बई है। आतंकी 26/11 जैसे बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देने का प्लान करे रहे हैं। ख़ुफ़िया एजेंसियों के अलर्ट के बाद मुम्बई के सभी प्रमुख संस्थानों की सुरक्षा कड़ी कर दी गयी है, आतंकी लोन वुल्फ अटैक करके भी बड़ी तबाही मचा सकते हैं।     सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेने के लिए आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद अपने आत्मघाती हमलावरों के माध्यम से लोन वुल्फ अटैक करने की तयारी में है जो 26/11 जैसा आतंकी हमला कर धमाके को अंजाम दे सकते हैं। मुम्बई उनका मुख्य निशाना है, यही वजह है मुम्बई पुलिस ने सभी प्रमुख संस्थानों की सुरक्षा चाक चौबंद कर दी है।  होटल्स, मॉल्स, मंदिर, भीड़ भाड़, वाली जगहों की सुरक्षा खाशतौर पर मुम्बई पुलिस ने बढ़ा दी है जिससे आतंकी खतरे को समय रहते ही नकाम किया जा सके।     यही वजह है कि मुम्बई पुलिस ने सिद्धिविनायक मंदिर की सुरक्षा में काफी इजाफा कर दिया है। ATS क्राइम ब्रांच मुम्बई पुलिस,  महिला पुलिस कर्मी सभी को मंदिर की सुरक्षा में तैनात किया है। खाश नजर उन लोगों पर जो संदिग्ध नजर आते हैं। सिद्धिविनायक मंदिर को इस वक्त छावनी में तब्दील कर दिया गया है। जहां दर्जनों पुलिसकर्मी चौबीस घंटे अपनी पैनी नजर बनाये हुए हैं। 

वहीं मुम्बई के एयरपोर्ट, सभी स्टेशन, होटल, बाजार मंदिर की सुरक्षा भी मुम्बई पुलिस ने बढ़ाई है जिससे आतंकी मनसूबे को नाकाम किया जा सके