IRF पर बैन लगना लगभग तय...

नई दिल्ली (9 अगस्त): ज़ाकिर नाइक मामले में मुम्बई पुलिस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को रिपोर्ट सौंप दी है। सूत्रों की माने तो मुंबई पुलिस जाकिर पर केस दर्ज कर सकती है। नाइक पर दो गुठों में तनाव फैलाने का मामला दर्ज हो सकता है।

मुम्बई पुलिस स्पेशल सेल ने महाराष्ट्र सरकार को  जो रिपोर्ट सौपी है वो 71 पेज की है। 2 पेज में समरी रिपोर्ट है। 19 पन्नो में ऑब्जर्वेसन है। इसमें यह कहा गया है कि जाकिर नाइक का भाषण दो धर्मो के बिच भेद भाव पैदा करता है। इसमें यह भी कहा गया है कि ज़ाकिर नाइक लोगों को धर्म परिवर्तन के लिए उकसाते हैं। इस्लाम को सभी धर्मों से महान बताते हैं। जिस तरह से केरल के दो बच्चे गए और उसमे ज़ाकिर नाइक के लोगों की गिरफ़्तारी हुई ऐसा लगता कहीं न कहीं ज़ाकिर नाइक का भी संपर्क आ रहा है। यही नहीं आतंकवाद को इंडाइरेक्टली जस्टीफाई करने का काम भी करते हैं। प्राईमफेसी ज़ाकिर के भाषणों को देखकर ऐसा लगता है की महाराष्ट्र में बैन करना चाहिए।

बता दें कि मुंबई पुलिस ने बांग्लादेश के ढाका में धमाके बाद जाँच के आदेश दिए थे। यह आदेश महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने मुम्बई पुलिस को दिया था। बता दें कि एक जुलाई को बांग्लादेश के ढ़ाका में आतंकी हमले हुए थे। जिसमें 22 लोगों की मौत हो गई थी। सुरक्षा एजेंसियों ने इस धमाके के बाद कहा था कि हमलावरों में से कुछ जाकिर नाइक से प्रेरित थे। साथ ही यह भी कहा गया था कि भारत में भी जाकिर ने कुछ आतंकियों को प्रेरित किया।