मुंबई पुलिस ने भीम आर्मी के मुखिया को हिरासत में लिया


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 दिसंबर): भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर आजाद को मुंबई पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। मुंबई पुलिस ने भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को उस वक्त हिरासत में लिया जब वो अपने कार्यकर्ताओं के साथ दादर के चैत्य भूमि पहुंचे थे। आपको बता दें कि चैत्य भूमि वो जगह है जहां बाबा साहेब भीमराव अंबेडर को दफनाया गया था। हालांकि मुंबई पुलिस में इस बात का खंडन किया है। गौरतलब है किपिछले साल भीमा-कोरेगांव वर्षगांठ में भड़की जातीय हिंसा का एक साल पूरा होने वाला है. भीमा-कोरेगांव की वर्षगांठ के मद्देनजर महाराष्ट्र पुलिस चुस्त है।


इस सिलसिले में चंद्रशेखर आजाद ने एक के बाद एक दो ट्वीट किए हैं। अपने पहले ट्वीट में उन्होंने नजरबंदी जबकि दूसरे ट्वीट में गिरफ्तारी की जानकारी दी। इसके साथ-साथ चंद्रशेखर ने एक वीडियो भी जारी किया था। जिसमें उन्होंने नजरबंदी किए जाने की जानकारी दी थी। अपने वीडियो में आजाद कह रहे हैं, “मनाली होटल में … कैद.. आप समझिए कि मैं यहां पहली बार आया… बाबा साहेब की धरती पर… इस धरती को नमन करने के लिए.. मुझे यहां कैद कर दिया गया…मुझे कौन सी एक्ट के तहत कैद किया गया ये मैं जानना चाहता हूं यहां की पुलिस और महाराष्ट्र सरकार से…यह देश संविधान से चलता है… लेकिन यहां तो संविधान को ताक पर रख कर सब काम किया जा रहा है… मैं चैत्य भूमि जाना चाहता था… मैं प्रेस कॉफ्रेंस करना चाहता था… मैं अपने लोगों से मिलना चाहता था… उनकी पीड़ा जानना चाहता था… मेरे साथ जो हो रहा है वो देश के हर उस नागरिक के साथ हो सकता है जो न्याय के लिए आवाज उठाना चाहता है”।


गौरतलब है कि इस साल की शुरुआत में भीमा-कोरेगांव संघर्ष की 200वीं वर्षगांठ के पहले तनाव फैल गया था। 1 जनवरी 2018 को पुणे से 40 किलोमीटर दूर कोरेगांव-भीमा गांव में दलित समुदाय के लोगों का एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था, जिसका कुछ दक्षिणपंथी संगठनों ने विरोध किया था। इसी कार्यक्रम के दौरान इस इलाके में हिंसा भड़की थी, जिसके बाद भीड़ ने वाहनों में आग लगा दी और दुकानों-मकानों में तोड़फोड़ की थी। इस हिंसा में एक आदमी का मौत हो गई थी, वहीं 4 अन्य घायल हो गए थे।