मुंबई: मुस्लिम युवकों ने किया हिन्दू बुजुर्ग का अंतिम संस्कार

नई दिल्ली (7 सितंबर): मुंबई शहर अक्सर अपनी दरियादिली के किस्सों के लिए जाना जाता है। लेकिन हाल में इसी शहर से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने दुनिया के सामने एक मिसाल कायम की है। कौसा इलाके में सोमवार रात को एक हिन्दू शख्स की अचानक मौत हो गई। जिसका अंतिम संस्कार मुंब्रा इलाके में रहने वाले कुछ मुस्लिम युवकों ने किया।

- रिपोर्ट के मुताबिक, महमूद अपार्टमेंट में रहने वाले 65 वर्षीय बुजुर्ग वामन कदम की अचानक मौत हो गई। - उनका अंतिम संस्कार करने के लिए परिवार में उनकी पत्नी के अलावा और कोई मौजूद नहीं था। - देर रात हो गई लेकिन उनका अंतिम संस्कार नहीं हो पाया। यह बात जब वहां के युवकों को पता चली तो उन्होंने आगे आकर खुद ही पहल करते हुये बुजुर्ग के अंतिम संस्कार का इंतजाम किया।  - उन्होंने अंतिम संस्कार के लिए जरूरी पारंपरिक सामान- बांस, रस्सी, मटका, अगरबत्तियों के साथ साथ कपड़ा और एक फूस का आसन खरीदा।  - इसके बाद शव को सुबह तीन बजे एक श्मशान घाट ले गये और उनका अंतिम संस्कार किया। - समाजिक समरसता की ऐसी मिसाल पेश करने वाले युवकों में खलील पवने, फहद दबीर, नवाज दबीर, राहील दबीर, शबान खान, मकसूद खान, फारुख खान, मोहम्मद कसम शेख शामिल रहे। - जब मुंब्रा कलवा के विधायक जितेंद्र को इस बात की जानकारी हुई को उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर उन युवकों की तारीफ की। - इसके अलावा मुस्लिम बहुल मुंब्रा के निवासियों ने भी इस काम की काफी तारीफ की है।