परिवार में 4 लोग, 2 लाख करोड़ है इनके पास, IT ने दिए जांच के आदेश

मुंबई (4 दिसंबर): नोटबंदी बंदी से पहले IDS स्कीम के तहत मुंबई के एक परिवार ने अपने 2 लाख करोड़ रुपये के अघोषित धन की घोषणा की थी। लेकिन महेश शाह कांड के बाद इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 2 लाख करोड़ रुपये के अघोषित धन के ऐलान को खारिज कर दिया है। आयकर विभाग ने इस मामले के जांच के आदेश दिए हैं।

दरअसल IDS स्कीम के तहत मुंबई के अब्दुल रज्जाक परिवार ने सबसे ज्यादा अघोषित धन की घोषणा की थी। मुंबई के इस परिवार में कुल चार लोग हैं और चारों ने IDS स्कीम के 2 लाख करोड़ की अघोषित आय का ऐलान किया था। उस वक्त इनकम टैक्स ने IDS स्कीम तहत अब्दुल रज्जाक मोहम्मद सईद और उनकी पत्नी, बेटे और बेटी को राहत देने बात कही थी। लेकिन अब इनकम टैक्स ने उन्हें राहत देने से इनकार कर दिया है। आयकर विभाग ने अब्दुल रज्जाक परिवार के इस घन के जांच के आदेश दिए है।

IDS स्कीम के तहत सबसे ज्यादा मुंबई के अब्दुल रज्जाक परिवार ने 2 लाख करोड़ रुपये के अघोषित धन का ऐलान किया था। जबकि दूसरे नंबर पर जोधपुर के रहने वाले मुकेशकुमार चंपकलाल शाह थे। मुकेशकुमार चंपकलाल शाह ने IDS स्कीम के तहत 13 हजार 860 करोड़ के अघोषित धन का ऐलान किया था।