इस एक्टर और गर्लफ्रैंड की इंटीमेट क्लिप चुराकर ममेरे भाई ने किया ब्लैकमेल, गिरफ्तार

नई दिल्ली (29 मार्च): मुंबई से एक ऐसा मामला सामने आया है, जो किसी बी-ग्रेड बॉलिवुड फिल्म की कहानी से कम नहीं है। यहां एक एक्टर के ममेरे भाई को पिछले हफ्ते ब्लैकमेलिंग कर एक करोड़ रुपए मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

एक्टर का ममेरा भाई एक्टर और उसकी गर्लफ्रैंड के बीच के अंतरंग पलों की एक वीडियो क्लिप को डिलीट करने के बदले ब्लैकमेल कर रहा था। जिसमें वह भारी रकम की मांग कर रहा था। इस मामले में आरोपी के पिता के हस्तक्षेप के बाद शिकायत दर्ज कराई गई। जिसके बाद पुलिस ने उसे जबरन पैसे वसूलने के लिए ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

'मिड-डे' की रिपोर्ट के मुताबिक, जिस एक्टर के साथ यह सब आपबीती हुई है, उसका नाम है ताहा शाह। ताहा बॉलिवुड फिल्म गिप्पी (2013) और लव का द एंड (2011) में काम कर चुके हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, ताहा के ममेरे भाई जोशुआ मैथ्यूस के हाथों ताहा और उनकी गर्लफ्रैंड के बीच के निजी पलों की एक वीडियो क्लिप हाथ लग गई। उनकी गर्लफ्रैंड भी एक एक्टर हैं। जोशुआ इस क्लिप को वायरल करना चाहता था, जिससे कपल का करियर खराब हो सकता था। 

बताया जा रहा है कि जोशुआ बेरोजगार है। उसने प्लान बनाया और क्लिप को ताहा की गैरमौजूदगी में उसके फोन से ब्लूटूथ के जरिए ट्रांसफर कर लिया। एक बार क्लिप उसे मिल गई, वह ताहा को धमकी देने लगा। उसने 17 लाख रुपए की मांग की। लेकिन ताहा ने इनकार किया। इसके बाद मैथ्यूज़ ने क्लिप को सोशल नेटवर्किंग साइट पर पब्लिक करने की धमकी दी। 

इसके बाद ताहा ने मामला ना सुलझता पाकर अपनी मां को इस बारे में बताय़ा और उनसे हस्तक्षेप करने के लिए कहा। इसपर जोशुआ नाराज हो गया और एक्टर और उसकी मां से 1 करोड़ रुपए की मांग करने लगा। 

पुलिस अधिकारी ने बताया, "जोशुआ ने ताहा की मां को वर्सोवा अपार्टमेंट को बेचकर पैसे देने या गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी। इसके बाद एक्टर की मां ने अपने भाई से उसके बेटे की हरकतों के बारे मे जानकारी दी। इसपर पिता ने बदले में जोशुआ को सबक सिखाने के लिए पुलिस स्टेशन का दरवाजा खटखटाया।"

ताहा, उसकी मां और जोशुआ के पिता के बयान दर्ज करने के बाद वर्सोवा पुलिस ने जोशुआ को पकड़ा। पुलिस ने 21 मार्च को सभी वीडियो क्लिप्स, फोटोग्राफ्स और प्राइवेट मैसेजेस बरामद कर लिए हैं। जोशुआ पर आईपीसी और इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलॉजी एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।