अडल्ट फिल्में दिखाने वाले सिनेमा हॉल का कायापलट, अब बना मस्जिद!

मुंबई (6 अप्रैल) :  मायानगरी के करीब 95 साल पुराने एक सिनेमा हॉल को मस्जिद बना दिया गया है। मुंबई सेंट्रल के नागपाड़ा जंक्शन के पास मौजूद एलेक्ज़ेंडर सिनेमा के साथ ऐसा ही कुछ हुआ है।

ये सिनेमा कभी थ्रिलर फिल्मों के सनसनीखेज हिंदी टाइटल लगाने के लिए मशहूर था। सन् 2000 के बाद थिएटर ने अडल्ट फिल्में चलाना शुरू कर दिया। इस का नतीजा ये था कि थिएटर के पास से स्कूली बसों ने निकलना बंद कर दिया ताकि बच्चों पर अश्लील पोस्टर्स का गलत असर ना पड़े।

एलेक्जेंडर थिएटर को 1921 में आर्देशिर ईरानी और अब्दुलअली यूसुफअली ने शुरू किया था। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक इस सिनेमा हॉल को 2011 में बिल्डर रफीक दूधवाला ने खरीदा। उन्होंने इसे 'दीनियत' नाम के एक एनजीओ को दे दिया। 'दीनियत'  इस्लाम की किताबों की प्रिंटिंग करने और फिर उन्हें पूरे राज्य के उर्दू और अरबी स्कूलों में वितरण का काम करता है। एलेक्ज़ेंडर सिनेमा के स्पीकरों से अब कुरान की आयतें सुनाई देती हैं। थिएटर का बाहरी कन्सट्रक्शन वैसा ही है लेकिन अंदर से इसमें काफी बदलाव किए जा चुके हैं। थिएटर के आसपास मुस्लिम बहुल इलाका है। यहां के लोग इस बदलाव से काफ़ी खुश हैं।