अमेरिका के ड्रोन हमले में मारा गया तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान का सरगना

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 15 जून ): अमेरिका ने अफगानिस्‍तान के पूर्वी कुनार प्रांत में तहरीक ए तालिबान पाकिस्‍तान के प्रमुख और आतंकी सरगना मुल्‍ला फजलुल्‍लाह को ड्रोन हमले में ढेर कर दिया है। मुल्‍ला फजलुल्‍लाह को भी ओसामा बिन लादेन की तरह ड्रोन हमले में मार गिराया है। अमेरिकी सेना ने आधिकारिक तौर पर वॉयस ऑफ अमेरिका से इसकी पुष्टि की है।लेफ्टिनेंट कर्नल मार्टिन ओ'डोनेल ने कहा कि अमेरिकी सेना ने अफगानिस्‍तान-पाकिस्‍तान सीमा से सटे कुनार प्रांत में आतंकियों के खात्‍मे के लिए 13 जून से ही अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत ड्रोन हमले में फजलुल्लाह को निशाना बनाया गया। अलकायदा के करीबी संगठन तहरीक-ए-तालिबान ने ही फैजल शहजाद को टाइम्स स्कॉयर में हमला करने के लिए ट्रेनिंग दी थी।मुल्ला तहरीक-ए-तालिबान का प्रमुख था। वह कई आतंकी साजिशों में शामिल रहा है। उसने ही मलाला युसुफजई पर हमला करवाया था। उसने 2010 में न्यूयॉर्क के टाइम्स स्कॉयर में भी हमला करने का प्लान बनाया था, लेकिन वह विफल रहा।ओ'डोनेल ने बताया कि तहरीक ए तालिबान, जोकि अल कायदा का करीबी संगठन है, ने ही फैजल शहजाद को टाइम्स स्कॉयर में हमला करने के लिए ट्रेनिंग दी थी। इसी आतंकी समूह ने दिसम्बर 2014 में पेशावर के आर्मी स्कूल में हमला किया था, जिसमें करीब 150 लोगों की मौत हुई थी। इनमें 132 से ज्यादा बच्चे थे, जबकि 9 से अधिक स्कूल लोग स्कूल के स्टाफ के थे। वहीं, घायलों की संख्या 245 से ज्यादा थी।गौरतलब है कि अमेरिका अफगानिस्तान और उसके आसपास के क्षेत्र में पनप रहे आतंकवाद पर सख्‍त रुख दिखा रहा है। हाल ही में अमेरिका ने तीन बड़े पाकिस्तानी आतंकियों की जानकारी देनेवालों को इनाम देने की घोषणा की, जिसकी कुल रकम 70 करोड़ रुपए थी। इसमें मुल्ला फजलुल्लाह पर 5 मिलियन डॉलर (तकरीबन 32 करोड़ रुपए) और अब्दुल वली और मनाल वाघ पर तीन-तीन मिलियन डॉलर (करीब 19-19 करोड़ रुपए) का इनाम रखा गया था।इससे पहले अमेरिका ने अफगानिस्तान में एक ड्रोन हमला किया था, जिसमें कथित तौर पर मुल्ला का बेटा भी मारा गया था।