बैकफुट पर मुलायम-शिवपाल, न तो कोर्ट जाएंगे और न प्रत्याशी उतारेंगे

लखनऊ (17 जनवरी): साइकिल और पार्टी पर अखिलेश यादव के कब्जे के बाद मुलायम और शिवपाल यादव के तेवर नरम पड़ गए हैं। शिवपाल यादव ने ऐलान किया है कि चुनाव आयोग के फैसले का सम्मान किया जाएगा और इसके खिलाफ कोई भी कोर्ट में अपील नहीं करेगा। शिवपाल यादव ने कहा कि पार्टी एकजुट है। पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ता चुनाव की तैयारी में जुट जाएं। उन्होंने कहा कि अब सरकार को वापस लाना ही सभी लोगों की प्राथमिकता होनी चाहिए।

मुलायम सिंह यादव ने कल चुनाव आयोग से फैसला आने से पहले ही ऐलान किया था कि पार्टी को बचाने के लिए वह कुछ भी करने को तैयार हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि वह अखिलेश यादव के खिलाफ भी चुनाव लड़ेंगे। यही नहीं मुलायम ने सिंबल न मिलने की स्थिति में अदालत की शरण लेने की बात भी कही थी। लेकिन बदलते सियासी समीकरण के बीच मुलायम और शिवपाल यादव के तेवर नरम पड़ गए हैं।