मुलायम ने रामगोपाल को फिर पार्टी से निकाला, लगाया यह बड़ा आरोप

नई दिल्ली (1 जनवरी): पिछले 3 दिन से समाजवादी पार्टी में जो चल रहा है, उसको लेकर राजनैतिक पंडितों की भविष्‍यवाणी भी फेल होती दिख रही है। अब एक बार फिर सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने रामगोपाल को 6 साल के लिए पार्टी से बाहर निकाल दिया है।


मुलायम सिंह यादव ने इस बार रामगोपाल पर आरोप लगाया है कि कुछ लोग अपने कुकृत्‍यों को छिपाने के लिए, सीबीआई से बचने के लिए और भाजपा का फायदा पहुंचाने के लिए उनका लगातार अपमान कर रहे हैं। उन्हीं लोगों ने आज का तथाकथित सम्मेलन बुलाने का भी निर्देश दिया। इसलिए प्रदेश की जनता को भ्रम ना रहे पार्टी का आकस्मिक राष्‍ट्रीय अधिवेशन 5 जनवरी को जनेश्वर मिश्रा पार्क, लखनऊ में आयोजित किया जाता है।


आपको बता दें कि शुक्रवार को मुलायम सिंह ने अखिलेश यादव और रामगोपाल को 6 साल के लिए पार्टी से बाहर किया था। जिसके बाद आजम खान ने नेताजी से बात की और इन दोनों का निष्‍कासन वापस ले लिया गया। लेकिन आज बुलाए गए अधिवेशन के शुरू होने से पहले ही मुलायम सिंह ने सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं से वहां पर नहीं जाने की अपील की थी।


अधिवेशन में रामगोपाल यादव ने चार प्रस्ताव रखते हुए अखिलेश यादव को पार्टी का अध्यक्ष, मुलायम सिंह को मार्गदर्शक, शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाने और अमर सिंह को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया। जिसके बाद एक बार फिर मुलायम सिंह यादव और रामगोपाल में ठन गई है।