मुलायम सिंह ने फिर ठोका ताल, कहा- मैं ही हूं असली पार्टी अध्यक्ष, अखिलेश सिर्फ सीएम

नई दिल्ली (8 नवंबर): समाजवादी पार्टी और मुलायम परिवार में जारी सियासी घमासान फिलहाल थमता नजर नहीं आ रहा है। पिता मुलायम और पुत्र अखिलेश में पार्टी पर वर्चस्व की लड़ाई लगातार बढ़ती जा रही है। पिता और पुत्र में सुलह की तमाम कोशिशें नाकाम साबित होते दिख रही है।

इन सबके बीच लखनऊ से दिल्ली पहुंचे मुलायम सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साफ किया है कि वो पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री है। साथ ही मुलायम सिंह ने साफ किया कि शिवपाल यादव अब भी समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष हैं।

साथ ही मुलायम सिंह ने 1 जनवरी को बागी गुट यानी अखिलेश और रामगोपाल यादव की ओर से बुलाए गए अधिवेशन को फर्जी करार दिया है। उन्होंने कहा कि रामगोपाल यादव पार्टी से बर्खास्त हैं और उन्हें पार्टी का अधिवेशन बुलाने का कोई हक नहीं है।

मुलायम सिंह के ताजा बयान से साफ है उनके और अखिलेश यादव के बीच पार्टी पर कब्जे को लेकर विवाद थमा नहीं है और दोनों में अबतक तनातनी जारी है। सिसायत के माहिर खिलाड़ी समझे जाने वाले मुलायम सिंह को समझ में नहीं आ रहा है कि वो बेटे अखिलेश की चुनौती से कैसे निपटे। अखिलेश यादव ने पार्टी, पार्टी के चिन्ह सहित कई चीजों पर अपना दावा ठोक दिया है। मामला चुनाव आयोग तक पहुंच गया है।

मुलायम सिंह की बड़ी बातें...

- मैं समजावादी पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं

- अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं

- शिवपाल यादव एसपी के प्रदेश अध्यक्ष हैं

- रामगोपाल पार्टी से बर्खास्त हैं

- 1 जनवरी को बुलाया गया अधिवेशन फर्जी

- रामगोपाल को अधिवेशन बुलाने का हक नहीं

- रामगोपाल तो छह साल के पार्टी से बर्खास्त किए गए थे, वह अधिवेशन नहीं बुला सकते