मुजफ्फरनगर दंगे: नेता नहीं, अफसर जिम्मेदार- जस्टिस सहाय कमीशन

नई दिल्ली (6 मार्च ): सन् 2013 में उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में हुए सांप्रदायिक दंगों में आरोपी नेताओं को जस्टिस विष्णु सहाय कमीशन ने क्लीन चिट दी गई है। ये सभी नेता समाजवादी पार्टी के बताये जाते हैं। कमीशन की रिपोर्ट के मुताबिक तत्कालीन एसएसपी सुभाषचंद्र दूबे और लोकल इंटेलीजेंस इंस्पेक्टर प्रबल प्रताप सिंह को सीधे तौर पर दंगों के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है।

कमीशन ने  तत्कालीन जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के भी संदिग्ध बताया है। सहाय कमीशन ने बीजेपी विधायक संगीत सोम की भूमिका पर रिपोर्ट में कहा गया है कि संगीत सोम समेत 200 लोगों पर फेक वीडियो के मामले जांच चल रही है। इस रिपोर्ट में किसी भी नेता के भड़कऊं भाषाण को जिम्मेदार नहीं माना गया है बल्कि स्थानीय पंचायत और पुलिस को इस दंगे का जिम्मेदार बताया गया है।