Video: रनआउट के बाद बेहद निराश धोनी, कभी नहीं देखा होगा इतना मायूस

DHONI

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जुलाई): आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में टीम इंडिया का सफर सेमीफाइनल में हारकर समाप्त हो गया है। भारतीय टीम को बुधवार को न्यूजीलैंड के हाथों 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में कल पहली बार धोनी के चेहरे पर मायूसी दिखी, वो मायूसी जो उनके चेहरे पर करीब 15 साल के करियर में कभी नहीं दिखी थी। 

DHONI

धोनी के लिए यह मुकाबला एक तरह से वर्ल्ड कप का आखिरी मैच था, इसलिए वो आखिरी पल तक मैदान में संघर्ष करते दिखे। एक तरफ रवींद्र जडेजा बड़े शॉट लगा रहे थे तो दूसरी तरफ धोनी सूझबूझ से पारी को आगे बढ़ा रहे थे। हर एक गेंद के बाद जडेजा को समझा रहे थे कि आगे कैसे खेलना है। 

मैच में एक समय तो ऐसा आया, जब महेंद्र सिंह धोनी और रवींद्र जडेजा ने जीत की उम्मीद तक जगा दी। लेकिन 48वें ओवर में रवींद्र जडेजा आउट हो गए। उसके बाद धोनी ने अकेले मोर्चा संभाल लिया और 49वें ओवर में शानदार छक्का जड़कर लोगों की उम्मीदें और बढ़ा दीं। अब तक धोनी अपनी रनिंग के लिए जाने जाते हैं, लेकिन इस बड़े मैच में वो रनआउट हो गए। 49वें ओवर में धोनी के रनआउट होते ही टीम इंडिया की हार भी तय हो गई, और सवा सौ करोड़ से ज्यादा भारतवासियों की उम्मीदें भी टूट गईं। क्योंकि अगर धोनी अंत तक जमे रहते तो शायद मैच का परिणाम बदल जाता।

DHONI

रनआउट होने के बाद जब धोनी पवेलियन की तरह लौट रहे थे, तो वो बेहद मायूस थे। वो मैदान से बाहर निकल तो रहे थे, लेकिन उनके कदम नहीं बढ़ रहे थे। इससे पहले आपने कभी धोनी को इस तरह दुखी नहीं देखा होगा। धोनी जब क्रीज से वापस पवेलियन लौट रहे थे तो उनका सिर झुका हुआ था। कदम ठिठक-ठिठक कर आगे बढ़ रहे थे, लग रहा था कि मैदान पर कुछ छूट गया है। आपको बता दें, धोनी के लिए यह चौथा वर्ल्ड कप था। एक वर्ल्ड में उन्होंने आखिरी गेंद पर छक्का लगाकार भारत की झोली में जीत डाल दी थी और दो वर्ल्ड में हार हुई थी। लेकिन धोनी इस तरह दुखी नहीं हुए थे।

इससे पहले भारतीय टीम का टॉप ऑर्डर पूरी तरह से फ्लॉप रहा. इतने बड़े मैच में टीम ऐसी लड़खड़ाई कि संभलना मुश्किल हो गया। शुरुआती के तीन बल्लेबाज महज 1-1 रन बनाकर आउट हो गए। वनडे इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब किसी टीम के टॉप-3 बल्लेबाज 1 रन के निजी स्कोर पर आउट हुए हों। भारतीय टीम ने 5 रन के स्कोर पर 3 विकेट खो दिए थे।