MP: बदला लेने के लिए दलितों के कुएं में डाला मिट्टी का तेल


भोपाल(1 मई): मध्य प्रदेश के आगर मालवा जिला में उच्च जाति के लोगों ने एक दलित परिवार से बदला लेने के लिए कुएं में मिट्टी का तेल डाल दिया।


- दलितों के लिए पानी का यही स्रोत था जिस कारण उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़़ा।


- दोनों वर्गों के बीच तकरार तब शुरू हुई जब माना गांव के चंदर मेघवाल (45) ने अपनी बेटी की शादी में बैंड पार्टी को बुलाया। मेघवाल ने ग्रामीणों द्वारा बहिष्कार की धमकी दिए जाने के बावजूद बैंड पार्टी बुलाई थी।


- माना में ऐसी परंपरा है कि यहां के लोग बैंड पार्टी को गांव में घुसने नहीं देते और वे दूल्हे के स्वागत के लिए सिर्फ ढोल लाने की इजाजत देते हैं। धमकी मिलने के बाद मेघवाल ने पुलिस को सूचना दी थी जिसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच शादी संपन्न हुई। इधर, उच्च जाति के लोग इस काफी नाराज थे और उन्होंने इसी गुस्से में कुएं में केरोसिन तेल डाल दिया, जिसका इस्तेमाल दलित करते थे। इसके बाद दलितों ने कालीसिंध नदी के किनारे एक गड्ढा खोदा। उन्होंने साथ ही पंप की मदद से केरोसिन तेल को पानी से अलग किया।


- सूचना मिलने पर एसपी आर.एस.मीना और जिलाधिकारी डी.वी.सिंह ने गांव का दौरा किया है और कुएं का पानी पीने के बाद ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि यह पीने लायक है। इन दोनों ने उच्च जाति के लोगों से भी बातचीत की। जिलाधिकारी ने दलितों के लिए बोरवेल की घोषणा की ताकि उन्हें आगे ऐसी किसी दिक्कत का सामना करना न पड़े। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।